Careers360 Logo
यूपीएससी सिलेबस 2024 (UPSC Syllabus in Hindi PDF) - IAS Syllabus in Hindi

यूपीएससी सिलेबस 2024 (UPSC Syllabus in Hindi PDF) - IAS Syllabus in Hindi

Edited By Nitin Saxena | Updated on Jul 02, 2024 03:45 PM IST | #UPSC CSE
Switch toEnglishEnglish Icon HindiHindi Icon

संघ लोक सेवा आयोग आधिकारिक अधिसूचना के माध्यम से यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा के लिए यूपीएससी सीएसई पाठ्यक्रम (UPSC civil services exam syllabus in hindi) जारी करता है। सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों को यूपीएससी आईएएस 2024 पाठ्यक्रम और परीक्षा पैटर्न अवश्य जानना चाहिए। आयोग की वेबसाइट से उम्मीदवार यूपीएससी सीएसई पाठ्यक्रम पीडीएफ फाइलों में प्राप्त कर सकते हैं। यूपीएससी सीएसई सिलेबस (UPSC CSE syllabus in hindi) यूपीएससी की ओर से सामान्य अध्ययन पेपर-I, II, III, IV के लिए अलग से प्रदान किया जाएगा।
ये भी पढ़ें : यूपीएससी आईएएस रिजल्ट 2024

प्रचलित तौर पर सिविल सेवा परीक्षा को आईएएस परीक्षा (IAS Exam) भी कहा जाता है। आईएएस परीक्षा की तैयारी करने वाले उम्मीदवार वेबसाइट पर जारी अधिसूचना में विस्तृत यूपीएससी आईएएस 2024 सिलेबस (UPSC IAS 2024 syllabus in hindi) की जांच कर सकते हैं। संघ लोक सेवा आयोग यूपीएससी आईएएस 2024 परीक्षा (UPSC IAS 2024 Exam) के लिए प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा के लिए यूपीएससी सीएसई सिलेबस 2024 (upsc cse syllabus 2024 in hindi) अलग-अलग निर्धारित करता है।

विस्तृत यूपीएससी आईएएस आवेदन पत्र (UPSC IAS application form in hindi) भरते समय, उम्मीदवारों को मुख्य परीक्षा के लिए अपना वैकल्पिक विषय चुनना होगा। यूपीएससी सीएसई 2024 सिलेबस (UPSC CSE 2024 syllabus in hindi) के साथ, उम्मीदवारों को बेहतर समझ के लिए आईएएस परीक्षा पैटर्न (IAS exam pattern) का अध्ययन करने की सलाह दी जाती है। यूपीएससी आईएएस सिलेबस (UPSC IAS syllabus in hindi) से यूपीएसी परीक्षा की तैयारी ले लिए रणनीति बनाने में मदद मिलती है।
डाउनलोड करें- यूपीएससी आईएएस सिलेबस पीडीएफ

यूपीएससी सिलेबस (upsc syllabus in hindi) के साथ, बेहतर समझ के लिए आईएएस के परीक्षा पैटर्न की जानकारी होना महत्वपूर्ण है। यूपीएससी आईएएस 2024 सिलेबस पीडीएफ (UPSC IAS 2024 Syllabus pdf in hindi) के अनुसार, यूपीएससी आईएएस प्रारंभिक परीक्षा (UPSC IAS prelims exam in hindi) के लिए दो पेपर होते हैं, जबकि मुख्य परीक्षा के लिए 9 पेपर होते हैं जिनमें वैकल्पिक विषय के दो पेपर भी शामिल हैं। आधिकारिक अधिसूचना में प्रत्येक विषय के लिए आईएएस परीक्षा सिलेबस (IAS exam syllabus) प्रदान किया जाता है। यूपीएससी सिविल सेवा सिलेबस 2024 (UPSC Civil Service syllabus 2024 in hindi) के बारे में अधिक जानने के लिए, नीचे विस्तृत यूपीएससी पाठ्यक्रम (UPSC syllabus in hindi) पढ़ें।

UPSC CSE Preparation Strategy and Best Books
UPSC CSE preparation strategy along with best books for prelims as well as mains exam for sure success.
Download EBook

यूपीएससी सीएसई सिलेबस (UPSC CSE syllabus in hindi) - अवलोकन

परीक्षा का नाम

सिविल सेवा परीक्षा (यूपीएससी सीएसई)

(Civil Services Exam (UPSC CSE)

संचालक प्राधिकरण

संघ लोक सेवा आयोग

(Union Public Service Commission)

परीक्षा का मोड

ऑफलाइन

(प्रारंभिक के लिए यूपीएससी परीक्षा पैटर्न - एमसीक्यू-आधारित)

(मेन्स के लिए यूपीएससी परीक्षा पैटर्न - वर्णनात्मक)

(व्यक्तित्व परीक्षण - बोर्ड के सदस्यों के सामने साक्षात्कार)

चरण

  • प्रारंभिक परीक्षा

  • मेन्स परीक्षा

  • साक्षात्कार

यूपीएससी परीक्षा में कुल पेपर

प्रारंभिक: 2

मेन्स: 9 (दो पेपर पात्रता सुनिश्चित करने के लिए होंगे, जिनके अंकों को मेरिट सूची तैयार करते वक्त जोड़ा नहीं जाएगा।)

यूपीएससी सीएसीई 2024 परीक्षा की अवधि

प्रारंभिक: 2 घंटे (प्रत्येक पेपर) कुल 4 घंटे

मेन्स: 3 घंटे (प्रत्येक पेपर) कुल 27 घंटे, विभिन्न दिनों में आयोजित किया जाएगा

प्रश्नों के प्रकार

प्रारंभिक: ऑब्जेक्टिव

मेन्स: सब्जेक्टिव

यूपीएससी 2024 प्रारंभिक परीक्षा सिलेबस (UPSC Prelims Syllabus in hindi)

तैयारी शुरू करने से पहले, यूपीएससी आईएएस सिलेबस 2024 (UPSC IAS Syllabus 2024 in Hindi) की जानकारी होना महत्वपूर्ण है। इससे आपको अपने कमजोर तथा मजबूत वर्गों को पहचानने में मदद मिलेगी। यूपीएससी आईएएस प्रारंभिक सिलेबस 2024 (UPSC Prelims Syllabus in hindi) के अनुसार, 200- 200 अंकों के दो पेपर होंगे। यूपीएससी आईएएस सिलेबस (ias syllabus in hindi) के अनुसार प्रारंभिक चरण के लिए महत्वपूर्ण विषयों का उल्लेख नीचे दी गई तालिका में किया गया है।

यूपीएससी आईएएस प्रारंभिक परीक्षा का सिलेबस 2024 (UPSC IAS Prelims Syllabus 2024 in hindi)

पेपर

प्रीलिम्स परीक्षा के लिए यूपीएससी सिलेबस 2024 के महत्वपूर्ण टॉपिक

पेपर 1 (जीएस 1)

  • राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व से संबंधित वर्तमान घटनाएं।

  • जैव विविधता और जलवायु परिवर्तन, पर्यावरण पारिस्थितिकी विशेष रूप से जलवायु परिवर्तन, सौर आविष्कार, हरित ऊर्जा आदि जैसे सामान्य मुद्दे।

  • आर्थिक और सामाजिक विकास विशेष रूप से सतत विकास, गरीबी, समावेश, सरकारी योजनाएं, जनसांख्यिकी, सामाजिक क्षेत्र की पहल आदि।

  • सामान्य विज्ञान।

  • भारतीय राजनीति और शासन - राजनीतिक प्रणाली, संविधान, लोकसभा, राज्यसभा, विधानसभा, राज्यपाल और राष्ट्रपति के शक्तियां, पंचायती राज, सार्वजनिक नीति, मौलिक अधिकार के मुद्दे, राज्य सरकार के निदेशक सिद्धांत।

  • भारतीय और विश्व भूगोल - भारत और विश्व का सामाजिक, भौतिक, आर्थिक भूगोल।

पेपर 2 (जीएस 2) - सीएसएटी (CSAT)

  • संचार कौशल सहित पारस्परिक कौशल (Interpersonal skills including communication skills)

  • कॉम्प्रिहेंशन (Comprehension)

  • तार्किक तर्क और विश्लेषणात्मक क्षमता (Logical reasoning and analytical ability)

  • निर्णय लेना और समस्या-समाधान (Decision making and problem-solving)

  • सामान्य मानसिक क्षमता पर प्रश्न (Questions on General mental ability)

  • गणितीय संख्या (परिमाण का क्रम, संख्या और उनके संबंध, आदि) (कक्षा 10 वीं स्तर) (Basic numeracy (orders of magnitude, numbers and their relations, etc.) (Class 10th level))

  • डेटा इंटरप्रिटेशन (रेखांकन, चार्ट, आंकड़ों की पर्याप्तता, टेबल आदि) - कक्षा 10 वीं स्तर (Data interpretation (graphs, charts, data sufficiency, tables etc. — Class 10th level)

यूपीएससी सिलेबस 2024 मेन्स (UPSC Syllabus in hindi Mains)

यूपीएससी आईएएस प्रारंभिक परीक्षा 2024 (UPSC IAS Prelims Exam 2024 in hindi) में उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवार यूपीएससी आईएएस 2024 की मुख्य परीक्षा में बैठने के पात्र होते हैं। यूपीएससी आईएएस मुख्य सिलेबस (UPSC Mains Syllabus in hindi) के अनुसार, दो वैकल्पिक पेपर सहित सात पेपर होंगे। उम्मीदवार द्वारा चुने गए वैकल्पिक विषय के बारे में विवरण का यूपीएससी आईएएस एडमिट कार्ड 2024 पर उल्लेख किया जाएगा। नीचे यूपीएससी आईएएस मेन्स सिलेबस 2024 (UPSC Mains Syllabus in hindi) के बारे में विस्तृत जानकारी देखें।

यूपीएससी आईएएस मेन्स सिलेबस 2024 (UPSC IAS Mains Syllabus 2024 in hindi)

पेपर

महत्वपूर्ण टॉपिक

यूपीएससी आईएएस मेन्स पेपर 1 सिलेबस

निबंध लेखन (Essay writing)

यूपीएससी आईएएस मेन्स पेपर 2 सिलेबस (GS 1)

भारतीय विरासत और संस्कृति, इतिहास और विश्व का भूगोल एवं समाज विषय से जुड़े प्रश्न होंगे

  • भारतीय संस्कृति में प्राचीन काल से आधुनिक काल तक के कला के रूप, साहित्य और वास्तुकला के मुख्य पहलू शामिल होंगे।

  • महिलाओं की भूमिका और महिला संगठन, जनसँख्या एवं सम्बद्ध मुद्दे, गरीबी और विकासात्मक विषय, शहरीकरण उनकी समस्याएं और उनके रक्षोपाय।

  • भारतीय समाज पर भूमंडलीकरण का प्रभाव।

  • 18वीं सदी के लगभग मध्य से लेकर वर्तमान समय तक का आधुनिक भारतीय इतिहास - महत्वपूर्ण घटनाएं, व्यक्तित्व, विषय।

  • भारतीय समाज की मुख्य विशेषताएं, भारत की विविधता।

  • स्वतंत्रता संग्राम - इसके विभिन्न चरण और देश के विभिन्न भागों से इसमें अपना योगदान देने वाले महत्वपूर्ण व्यक्ति/उनका योगदान।

  • 18 वीं शताब्दी की घटनाओं सहित दुनिया का इतिहास - औद्योगिक क्रांति, राष्ट्रीय सीमाओं का पुनर्वितरण, विश्व युद्ध, उपनिवेशीकरण, विघटन, पूंजीवाद, राजनीतिक दर्शन जैसे साम्यवाद, समाजवाद आदि - समाज पर उनके रूप और प्रभाव।

  • स्वतंत्रता के पश्चात देश के अंदर एकीकरण और पुनर्गठन।

  • सामाजिक सशक्तीकरण, सम्प्रदायवाद, क्षेत्रवाद और धर्म-निरपेक्षता।

  • विश्व के भौतिक भूगोल की मुख्य विशेषताएं।

  • विश्व भर में प्रमुख प्राकृतिक संसाधनों का वितरण

  • भूकंप, सुनामी, ज्वालामुखीय हलचल, चक्रवात आदि जैसी महत्वपूर्ण भू-भौतिकीय घटनाएँ, भूगोलीय विशेषताएं और उनके स्थान-अति महत्वपूर्ण भूगोलीय विशेषताओं (जल-स्रोत और आइसकैप सहित) और वनस्पति एवं प्राणी-जगत परिवर्तन और इस प्रकार के परिवर्तनों के प्रभाव।

  • दक्षिण एशिया और भारतीय उपमहाद्वीप प्राथमिक, माध्यमिक और तृतीयक क्षेत्र के स्थान के लिए जिम्मेदार कारक।

  • दुनिया के विभिन्न हिस्सों (भारत सहित) में उद्योग।

यूपीएससी आईएएस मेन्स पेपर 3 सिलेबस (GS 2)

शासन व्यवस्था, संविधान शासन-प्रणाली, राजनीति, सामाजिक न्याय और अंतर्राष्ट्रीय संबंधों के प्रश्न होंगे

  • भारतीय संविधान- ऐतिहासिक आधार, विकास, संविधान की विशेषताएं, संशोधन, महत्वपूर्ण प्रावधान और बुनियादी संरचना।

  • भारतीय संवैधानिक योजना की अन्य देशों के साथ तुलना।

  • संसद और राज्य विधायिका - संरचना, कार्य, कार्य संरचना, शक्तियाँ एवं विशेषाधिकार और इनसे जुड़े विषय।

  • कार्यपालिका और न्यायपालिका की संरचना, संगठन और कार्य - सरकार के मंत्रालय एवं विभाग; प्रभावी समूह और औपचारिक / अनौपचारिक संघ और शासन प्रणाली में उनकी भूमिका।

  • संघ एवं राज्यों के कार्य और उत्तरदायित्व, संघीय ढांचे से संबंधित विषय एवं चुनौतियां, स्थानीय स्तर पर शक्तियों और वित्त का हस्तांतरण और उसकी चुनौतियाँ।

  • विभिन्न संवैधानिक पदों पर नियुक्ति और विभिन्न संवैधानिक निकायों की शक्तियां, कार्य और उत्तरदायित्व।

  • जनप्रतिनिधित्व अधिनियम की प्रमुख विशेषताएं।

  • विकास प्रक्रिया तथा विकास उद्योग - गैर सरकारीसंगठनो, स्वयं सहायता समूहों, विभिन्न समूहों संघों, दानकर्ताओं, लोकोपकारी संस्थाओं, संस्थागत एवं अन्य पक्षों की भूमिका।

  • केंद्र और राज्यों द्वारा जनसंख्या के अति संवेदनशील वर्गों के लिए कल्याणकारी योजनाएँ और इन योजनाओं का कार्य-निष्पादन, इन अति संवेदनशील वर्गों की रक्षा एवं बेहतरी के लिए गठित तंत्र, विधि, संस्थान एवं निकाय।

  • स्वास्थ्य, शिक्षा, मानव संसाधनों से संबंधित सामाजिक क्षेत्र / सेवाओं के विकास और प्रबंधन से संबंधित विषय।

  • सांविधिक, विनियामक और विभिन्न अर्ध-न्यायिक निकाय।

  • सरकारी नीतियों और विभिन्न क्षेत्रों में विकास के लिए हस्तक्षेप और उनके अभिकल्पन तथा कार्यान्वयन के कारण उत्पन्न विषय।

  • गरीबी और भूख से संबंधित विषय।

  • शासन व्यवस्था, पारदर्शिता और जवाबदेही के महत्वपूर्ण पक्ष, ई-गवर्नेंस- अनुप्रयोग मॉडल, सफलताएं, सीमाएं और संभावनाएं; नागरिक चार्टर, पारदर्शिता एवं जवाबदेही और संस्थागत तथा अन्य उपाय।

  • लोकतंत्र में सिविल सेवाओं की भूमिका।

  • भारत एवं उसके पड़ोसी-संबंध।

  • द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक समूह और भारत से संबंधित और/अथवा भारत के हितों को प्रभावित करने वाले करार।

  • भारत के हितों, भारतीय परिदृश्य पर विकसित और विकासशील देशों की नीतियां तथा राजनीति का प्रभाव।

  • महत्वपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय संस्थान, संस्थाएं और मंच - उनकी संरचना, अधिदेश।

यूपीएससी आईएएस मेन्स पेपर 4 सिलेबस (GS 3)

प्रौदयोगिकी, जैव विविधता, पर्यावरण, सुरक्षा तथा आपदा प्रबंधन से जुड़े प्रश्न नीचे दिए गए विषयों से होंगे-

  • आपदा और आपदा प्रबंधन

  • भारतीय अर्थव्यवस्था तथा योजना, संसाधनों को जुटाने, प्रगति, विकास तथा रोजगार से संबंधित विषय।

  • समावेशी विकास तथा इससे उत्पन्न विषय।

  • सरकारी बजट।

  • प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष कृषि सहायत तथा न्यूनतम समर्थन मूल्य से संबंधित विषय; जन वितरण प्रणाली- उद्देश्य, कार्य, सीमाएँ, सुधार; बफर स्टॉक और खाद्य सुरक्षा के संबंधी विषय; प्रौद्योगिकी मिशन; पशु-पालन संबंधी अर्थशास्त्र।

  • भारत में खाद्य प्रसंस्करण और संबंधित उद्योग- गुंजाइश और महत्व, स्थान, अपस्ट्रीम और डाउनस्ट्रीम आवश्यकताओं, आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन।

  • मुख्य फसलें - देश के विभिन्न भागों में फसलों का पैटर्न, - सिंचाई के विभिन्न प्रकार एवं सिंचाई प्रणाली-कृषि उत्पाद का भंडारण, परिवहन तथा विपणन, संबंधित विषय और बाधाएं: किसानों की सहायता के लिए ई-प्रौद्योगिकी।

  • उदारीकरण का अर्थव्यवस्था पर प्रभाव, औद्योगिक नीति में परिवर्तन तथा औदयोगिक विकास पर इनका प्रभाव।

  • भारत में भूमि सुधार।

  • विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी- विकास एवं अनुप्रयोग और रोजमर्रा के जीवन पर इसका प्रभाव।

  • बुनियादी ढांचा: ऊर्जा, बंदरगाह, सड़क, विमानपत्तन, रेलवे आदि।

  • निवेश मॉडल।

  • विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी में भारतीयों की उपलब्धियां; देशज रूप से का विकास और नई प्रौद्योगिकी का विकास।

  • सुचना प्रौद्योगिकी, अंतरिक्ष, कंप्यूटर, रोबोटिक्स, नैनो-टेक्नोलॉजी, बायो-टेक्नोलॉजी और बौद्धिक संपदा अधिकारों से संबंधित विषयों के क्षेत्र में जागरूकता।

  • आपदा और आपदा प्रबंधन।

  • संरक्षण, पर्यावरण प्रदूषण और क्षरण, पर्यावरण प्रभाव का आकलन।

  • विकास और फैलते उग्रवाद के बिच संबंध।

  • संचार नेटवर्क के माध्यम से आंतरिक सुरक्षा को चुनौती, आंतरिक सुरक्षा चुनौतियों में मीडिया और सामाजिक नेटवर्किंग साइटों की भूमिका, साइबर सुरक्षा की बुनियादी बातें, धन-शोधन और इसे रोकना।

  • आंतरिक सुरक्षा के लिए चुनौती उत्पन्न करने वाले शासन विरोधी तत्वों की भूमिका।

  • सीमावर्ती क्षेत्रों में सुरक्षा चुनौतियां एवं उनका प्रबंधन - संगठित अपराध और आतंकवाद के बीच संबंध।

  • विभिन्न सुरक्षा बल और संस्थाएं तथा उनके अधिदेश।

यूपीएससी आईएएस मेन्स पेपर 5 सिलेबस (GS 4)

यूपीएससी आईएएस पाठ्यक्रम 2024 (UPSC IAS Syllabus 2024 in hindi) के अनुसार प्रश्न नीतिशास्त्र, सत्यनिष्ठा और अभियोग्यता पर आधारित-

  • नीतिशास्त्र तथा मानवीय सह-संबंध: मानवीय क्रियाकलापों में नीतिशास्त्र का सार तत्व, इसके निर्धारक और परिणाम; नीतिशास्त्र के आयाम; निजी और सार्वजनिक संबंधों में नीतिशास्त्र। मानवीय मूल्य - महान नेताओं, सुधारकों और प्रशासकों के जीवन तथा उनके उपदेशों से शिक्षा; मूल्य विकसित करने में परिवार, समाज और शैक्षणिक संस्थाओं की भूमिका।

  • मानव मूल्य - महान नेताओं, सुधारकों और प्रशासकों के जीवन और शिक्षाओं से सबक; मूल्यों को विकसित करने में परिवार समाज और शैक्षणिक संस्थानों की भूमिका।

  • सिविल सेवा के लिए अभिरुचि तथा बुनियादी मूल्य, सत्यनिष्ठा, भेदभाव रहित तथा गैर-तरफदारी, निष्पक्षता सार्वजनिक सेवा के प्रति समर्पण भाव, कमजोर वर्गों के प्रति सहानुभूति, सहिष्णुता तथा संवेदना।

  • अभिवृत्ति: सारांश (कंटेन्ट) संरचना, वृत्ति, विचार तथा आचरण के परिप्रेक्ष्य में इसका प्रभाव एवं संबंध; नैतिक और राजनीतिक अभिरुचि; सामाजिक प्रभाव और धारणा।

  • सरकार एक ऐसे कार्यबल का प्रयास करती है जो लिंग संतुलन को दर्शाता है और महिला उम्मीदवारों को आवेदन करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। भावनात्मक खुफिया-अवधारणाएं, और प्रशासन और शासन में उनकी उपयोगिताओं और अनुप्रयोग।

  • लोक प्रशासनों में लोक/सिविल सेवा मूल्य तथा नीतिशास्त्र: स्थिति तथा समस्याएं; सरकारी तथा निजी संस्थानों में नैतिक चिंताएँ तथा दुविधाएं; नैतिक मार्गदर्शन के स्रोतों के रूप में विधि, नियम, विनियम तथा अंतरात्मा; शासन व्यवस्था में नीतिपरक तथा नैतिक मूल्यों का शुद्धिकरण; अंतरराष्ट्रीय संबंधों तथा निधि व्यवस्था (फंडिंग) में नैतिक मुद्दे; कॉर्पोरेट शासन व्यवस्था ।

  • भारत तथा विश्व के नैतिक विचारकों और दार्शनिकों के योगदान।

  • शासन व्यवस्था में ईमानदारी: लोक सेवा की अवधारणा; शासन व्यवस्था और ईमानदारी का दार्शनिक आधार, सरकार में सूचना का आदान-प्रदान और पारदर्शिता, शासन और आवश्यकता के दार्शनिक आधार, नीतिपरक, आचार संहिता, सूचना का अधिकार, आचरण संहिता, कार्य संस्कृति, सेवा प्रदान करने की गुणवत्ता, लोक निधि का उपयोग, भ्रष्टाचार की चुनौतियाँ।

  • उपयुर्क्त विषयों पर मामला संबंधी अध्ययन (केस स्टडी)।

यूपीएससी आईएएस पेपर 6 - वैकल्पिक

यूपीएससी आईएएस पेपर 7 - वैकल्पिक

Popular Online Competition Courses and Certifications

यूपीएससी आईएएस वैकल्पिक विषय 2024 (UPSC optional subject list in hindi)

यूपीएससी आईएएस मुख्य परीक्षा के लिए उम्मीदवारों को अपना वैकल्पिक विषय चुनना होगा। नीचे उल्लिखित यूपीएससी आईएएस वैकल्पिक विषयों की सूची (upsc optional subject list in hindi) देखें।

यूपीएससी आईएएस वैकल्पिक विषय पेपर 6 और 7 के लिए विकल्प

कृषि (Agriculture)

प्रबंधन (Management)

पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान (Animal Husbandry and Veterinary Science)

गणित (Mathematics)

मनुष्य जाति का विज्ञान (Anthropology)

यांत्रिक अभियांत्रिकी (Mechanical Engineering)

वनस्पति विज्ञान (Botany)

चिकित्सा विज्ञान (Medical Science)

रसायन विज्ञान (Chemistry)

दर्शनशास्त्र (Philosophy)

सिविल अभियांत्रिकी (Civil Engineering)

भौतिकी (Physics)

वाणिज्य और लेखाशास्त्र (Commerce & Accountancy)

राजनीति विज्ञान और अंतर्राष्ट्रीय संबंध (Political Science & International Relations)

अर्थशास्त्र (Economics)

मनोविज्ञान (Psychology)

विद्युत अभियन्त्रण (Electrical Engineering)

लोक प्रशासन (Public Administration)

भूगोल (Geography)

नागरिक शास्‍त्र (Sociology)

भूगर्भशास्त्र (Geology)

सांख्यिकी (Statistics)

इतिहास (History)

प्राणी विज्ञान (Zoology)

कानून (Law)

नीति (Ethics)

यूपीएससी आईएएस परीक्षा पैटर्न 2024 (UPSC IAS Exam Pattern 2024 in hindi) - प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा

आयोग आधिकारिक अधिसूचना में यूपीएससी आईएएस 2024 परीक्षा पैटर्न (UPSC IAS 2024 exam pattern) निर्धारित करता है। आईएएस सिलेबस 2024 (IAS syllabus 2024 in hindi) के साथ, उम्मीदवारों को यूपीएससी आईएएस के परीक्षा पैटर्न का भी अवलोकन करना होगा। यूपीएससी सीएसई परीक्षा पैटर्न 2024 प्रारंभिक और मुख्य चरण के लिए अलग है। परीक्षा पैटर्न के अनुसार, प्रारंभिक चरण के पूर्ण अंक 500 हैं जबकि मुख्य चरण के कुल अंक 600 हैं। उम्मीदवार नीचे दी गई तालिका में यूपीएससी आईएएस परीक्षा पैटर्न के बारे में विवरण देख सकते हैं।

यूपीएससी आईएएस प्रारंभिक परीक्षा पैटर्न 2024 (UPSC IAS Prelims Exam Pattern 2024 in hindi)

पेपर की संख्या

GS 1 और GS 2

पेपर का भाषा

English

हिंदी

परीक्षा की अवधि

4 घंटे (2 घंटे प्रत्येक)

प्रश्नों की संख्या

सामान्य अध्ययन पेपर 1: 100

सामान्य अध्ययन पेपर 2: 80

अधिकतम अंक

400 (200 प्रत्येक)

योग्यता अंक

पेपर 2 के लिए 33%

यूपीएससी आईएएस मुख्य परीक्षा पैटर्न 2024

पेपर की संख्या

9

पेपर का भाषा

English

हिंदी

वर्णनात्मक पेपर

परीक्षा की अवधि

3 घंटे प्रत्येक

विषय

अनिवार्य भारतीय भाषा

अंग्रेज़ी

निबंध

  • सामान्य अध्ययन I

  • सामान्य अध्ययन II

  • सामान्य अध्ययन III

  • सामान्य अध्ययन IV

  • वैकल्पिक I

  • वैकल्पिक II

प्रश्नों की संख्या

भाग A और B: 300 प्रत्येक

सामान्य अध्ययन और वैकल्पिक पेपर: 250 प्रत्येक

अधिकतम अंक

1750

छात्रों को यूपीएससी परीक्षा पैटर्न (UPSC Exam Pattern) के बारे में जानना बहुत जरूरी है। छात्र यूपीएससी परीक्षा पैटर्न (UPSC Exam Pattern) जाने बिना परीक्षा में सफल नहीं हो पाएंगे। इसलिए छात्रों को सबसे पहले यूपीएससी परीक्षा पैटर्न (UPSC Exam Pattern) की जानकारी प्राप्त करनी चाहिए और उसके अनुसार ही अपनी तैयारी करनी चाहिए।Student Also Liked:

यूपीएससी आईएएस प्रश्न पत्र 2024 (UPSC IAS Question Paper 2024 in hindi)

यूपीएससी परीक्षाओं की तैयारी करते समय, जो सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है, उम्मीदवारों को यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि उनकी तैयारी सही दिशा में होनी चाहिए। छात्रों को सहायता प्रदान करने के लिए, UPSC द्वारा यूपीएससी आईएएस 2024 प्रश्न पत्र प्रदान किया जाता है।यूपीएससी आईएएस सिलेबस (upsc ias syllabus in hindi)और परीक्षा पैटर्न के हर पहलू को समझने के लिए प्रश्न पत्र को हल करना महत्वपूर्ण है। तैयारी स्तर का विश्लेषण यूपीएससी आईएएस 2024 के प्रश्न पत्र की मदद से किया जा सकता है।

यूपीएससी आईएएस 2024 की तैयारी कैसे करें

  • यूपीएससी आईएएस 2024 की तैयारी शुरू करने से पहले नए यूपीएससी आईएएस सिलेबस (upsc ias syllabus in hindi) तथा परीक्षा पैटर्न पर आधारित सर्वोत्तम पुस्तकों का चयन करें।

  • यूपीएससी आईएएस की तैयारी सामयिक तरीके से करना बहुत महत्वपूर्ण है। अपने विषय की जाँच करें और अपने समय प्रबंधन के अनुसार तैयारी करें

  • यूपीएससी आईएएस में किसी प्रश्न का उत्तर देने में अपनी समझ और सटीकता में सुधार करने के लिए, यूपीएससी आईएएस प्रश्न पत्रों को यथासंभव हल करें।

  • समय-समय पर खुद को हाइड्रेट रखें और नियमित रूप से व्यायाम करें। स्वस्थ जीवनशैली बनाए रखने के लिए परीक्षणों के दौरान यह बहुत महत्वपूर्ण है।

  • यूपीएससी मॉक टेस्ट में शामिल हों।

  • यूपीएससी आईएएस सिलेबस (upsc ias syllabus in hindi) में अपने कमजोर और मजबूत क्षेत्रों के अनुसार समय का प्रबंधन करें।यूपीएससी आईएएस

यूपीएससी का सिलेबस क्या है?

अक्सर छात्र इंटरनेट पर यह सवाल पूछते है कि यूपीएससी का सिलेबस क्या है। छात्रों की जानकारी के लिए बता दें आईएएस की परीक्षा का निर्धारण जिन विषयों से होता है, उसे यूपीएससी आईएएस का सिलेबस (upsc ias syllabus in hindi) कहते हैं। यूपीएससी आईएएस का सिलेबस (upsc ias syllabus in hindi) बहुत ही विशाल है। छात्रों को आईएएस के सिलेबस के बारे में जानने के लिए यूपीएससी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना चाहिए तथा यूपीएएस आईएएस सिलेबस पीडीएफ़ डाउनलोड (upsc syllabus pdf download in hindi) करना चाहिए। इसके अलावा छात्रों को इस लेख में भी यूपीएससी प्रारंभिक परीक्षा का सिलेबस(upsc prelims syllabus in hindi) प्रदान किया गया है। छात्र संदर्भ के लिए इस लेख को पूरा पढ़ सकते है।

Frequently Asked Question (FAQs)

1. मैं यूपीएससी आईएएस 2024 के लिए पुस्तकों का चयन कैसे कर सकता हूं?

यूपीएससी आईएएस के लिए पुस्तकों का चयन करते समय सबसे महत्वपूर्ण बातों में से एक यह है कि वे यूपीएससी आईएएस 2024 के लिए नवीनतम सिलेबस (upsc syllabus pdf in hindi) और परीक्षा पैटर्न पर आधारित होनी चाहिए।

2. यूपीएससी, यूपीएससी आईएएस सिलेबस 2024 कब प्रदान करेगा?

यूपीएससी, यूपीएससी आईएएस अधिसूचना 2024 के साथ नवीनतम यूपीएससी आईएएस सिलेबस (upsc syllabus pdf in hindi) जारी कर दिया है। 

3. क्या आईएएस सिलेबस (upsc syllabus pdf in hindi) की जांच करना महत्वपूर्ण है?

यूपीएससी सिलेबस 2024 (upsc syllabus in hindi) के अनुसार तैयारी करने पर भी 0.1% उम्मीदवारों को सफलता नहीं मिल पाती है। ऐसे में यूपीएससी सिलेबस (upsc syllabus pdf) पता होना बेहद महत्वपूर्ण हो जाता है। इससे सफलता पाने के लिए योजना बनाने और किन विषयों की पढ़ाई करनी है उसके बारे में जानकारी मिलेगी। यूपीएससी सिलेबस 2024 (upsc syllabus pdf)  को जाने बिना तैयारी करना अंधेरे में गतिशील लक्ष्य पर निशाना साधने जैसा दुष्कर काम है। 

4. यूपीएससी आईएएस सिलेबस 2024 (upsc syllabus in hindi) कौन जारी करेगा?

यूपीएससी सिलेबस (upsc syllabus in hindi)  यूपीएससी द्वारा जारी किया जाता है।

5. क्या यूपीएससी आईएएस का सिलेबस प्रीलिम्स और मेंस राउंड के लिए समान है?

नहीं, यूपीएससी सिलेबस (upsc syllabus in hindi) आईएएस की प्रारंभिक और मुख्य चरण की परीभा के लिए अलग-अलग होता है जिसकी जानकारी लेख में देखी जा सकती है।

6. क्या साक्षात्कार के दौर के लिए कोई आईएएस सिलेबस है?

नहीं, IAS परीक्षा 2024 के साक्षात्कार दौर के लिए कोई विशिष्ट यूपीएससी सिलेबस (upsc syllabus in hindi) नहीं है।

7. यूपीएससी मेन्स में 9 पेपर कौन से हैं?

यूपीएससी में 9 पेपर मुख्य रूप से वर्णनात्मक पेपर होते हैं जिनमें से 6 सामान्य विज्ञान के पेपर होते हैं, 2 वैकल्पिक पेपर होते हैं और 1 भाषा का पेपर होता है।

8. आईएएस का वेतन क्या है?

यूपीएससी आईएएस का प्रारंभिक वेतन 56100 रु है।

9. आईएएस के लिए कौन सी डिग्री सबसे अच्छी है?

आईएएस के लिए आवेदन करने के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता स्नातक की डिग्री है, कोई सबसे अच्छी या सबसे खराब डिग्री नहीं है, जिन उम्मीदवारों के पास Bacherlor's in Technology है वे भी भाग ले सकते हैं जबकि कला में स्नातक भी भाग ले सकते हैं।

10. यूपीएससी के सिलेबस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

यूपीएससी आईएएस पाठ्यक्रम जीएस-I, II, III, IV पेपर के लिए अलग से प्रदान किया जाता है। यूपीएससी में कुल 9 पेपर होते हैं, जिसमें 7 विषयों के साथ 2 वैकल्पिक विषय के पेपर होते हैं। 

11. UPSC में कितने विषय लेने होते हैं?

यूपीएससी में एक वैकल्पिक विषय लेने का विकल्प दिया जाता है। 

12. UPSC में पास होने के लिए कितने मार्क्स चाहिए?

यूपीएससी फ़ाइनल सिलेक्शन यूपीएससी कट-ऑफ पर निर्भर करता है जो कि आयोग द्वारा निर्धारित की जाती है। 

Articles

Certifications By Top Providers

Access to Justice
Via National Law University, New Delhi
Media Law
Via New York University, New York
Sr.Secondary History 315
Via National Institute of Open Schooling
Intellectual Property Rights and Competition Law
Via Indian Institute of Technology Kharagpur
Contract Law from Trust to Promise to Contract
Via Harvard University, Cambridge
Edx
 190 courses
Swayam
 185 courses
Futurelearn
 86 courses
Coursera
 68 courses
Udemy
 63 courses

Explore Top Universities Across Globe

University of Essex, Colchester
 Wivenhoe Park Colchester CO4 3SQ
University College London, London
 Gower Street, London, WC1E 6BT
The University of Edinburgh, Edinburgh
 Old College, South Bridge, Edinburgh, Post Code EH8 9YL
University of Bristol, Bristol
 Beacon House, Queens Road, Bristol, BS8 1QU
University of Nottingham, Nottingham
 University Park, Nottingham NG7 2RD
Lancaster University, Lancaster
 Bailrigg, Lancaster LA1 4YW

Questions related to UPSC CSE

Have a question related to UPSC CSE ?

It's great that you are taking the initiative to pursue your dream of becoming an IAS officer, Bettaswamy. Many working professionals like you crack the UPSC exam every year.

Anxiety often stems from dwelling on uncertainties. Instead, focus on what you can control – your daily preparation. Break down your study plan into manageable chunks and celebrate small goals. Challenge negative thoughts with realistic and empowering self-talk. Instead of "what if I fail," tell yourself, "I am putting in the effort to succeed, and I am capable of learning from any outcome." Practice relaxation techniques like meditation, deep breathing, or yoga to calm your mind and reduce stress.

Plan your study schedule around your work commitments. Utilize pockets of time for revision and dedicate focused study time during evenings or weekends.

Plan your study schedule around your work commitments. Utilize pockets of time for revision and dedicate focused study time during evenings or weekends.

Connect with other UPSC aspirants or online forums for motivation and sharing strategies. Consider joining a coaching institute that caters to working professionals.

https://competition.careers360.com/exams/upsc-cse

I hope it helps!

Hello!

I assume you want to know the eligibility criteria to becoming an IAS. First of all, to become an IAS,  one has to clear UPSC CSE examiner. There are certain eligibility criteria for applying in this examination and they are as follows:

  • Bachelor's degree from any recognised college.
  • Age between 21-32; with some relaxation for reserved categories.
  • Citizen of India ora subject of Nepal/ Bhutan or Tibetan refugee who came to India, to permanently settle here before January 1, 1962, or People of Indian origin who migrated from Uganda, Burma, Pakistan, Zambia, the United Republic of Tanzania, Malawi, Sri Lanka, East African Countries of Kenya, Zaire, Ethiopia and Vietnam to permanently settle in India.

For more information, please visit the website by clicking on the link given below:

https://competition.careers360.com/articles/upsc-ias-eligibility-criteria#toc_1

And other government jobs, the eligibility test is different for different jobs. It would have been if you could mention the government job you are interested in.

Hope this answers your query. Thank you

Dear aspirant !!

Hope you are doing good !

Yes it will be considered because Bachelor in Audiology and Speech-Language Pathology (BASLP) is a 4-year degree course . It is a multi-disciplinary profession with core subjects including speech pathology, language pathology, and audiology.

Hope it helps you ;

Thank you

Dear Aspirant !

Hope you are fine!

The main subjects for the UPSC Exam are Indian Politics, Indian Economy, International Relations, Science and Technology, Geography, History, Environment and Ecology, and related Current Affairs . There are 25 subjects and 23 literature optional that one can choose from in addition to this..

Thank you

Hello aspirant,

With the help of the IAS Answer Key 2024, applicants can estimate their potential score for the IAS preliminary exam, learn about the various IAS question types, gauge the exam's difficulty, and much more.

To get the answer key, you can visit our website by clicking on the link given below.

https://competition.careers360.com/articles/upsc-ias-answer-key

Thank you

Hope this information helps you.

View All
Back to top